Latest Posts

दक्षिण-पश्चिम मानसून की दस्तक, पहाड़ों पर बारिश, मैदानी इलाकों में गिरा पारा

दक्षिण पश्चिम मानसून ने अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में दस्तक दे दी है। क्षोभमंडल के निचले स्तरों में दक्षिण-पश्चिमी हवा के मजबूत होने के कारण आसपास के क्षेत्रों में बारिश हो रही है। मॉनसून के 27 मई तक केरल पहुंचने की संभावना है। वहीं, अगले चार-पांच दिनों में केरल, कर्नाटक, असम, अरुणाचल प्रदेश और मेघालय में प्री-मानसून बारिश की संभावना है। उधर, दिल्ली समेत उत्तर भारत के कई इलाकों में मंगलवार से भीषण गर्मी से राहत मिलने के साथ ही अगले चार दिनों तक लू की संभावना नहीं है.

मौसम विभाग के मुताबिक हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, जम्मू-कश्मीर के पहाड़ी इलाकों में सोमवार को बारिश से थोड़ी राहत मिली, लेकिन उनके मैदानी इलाकों में लोग गर्मी से परेशान रहे. हालांकि, उत्तर भारत के अधिकांश राज्यों में रविवार की तुलना में पारा थोड़ा कम होने से लोगों को आंशिक राहत मिली।

weather

हिमाचल प्रदेश में अगले दो दिनों तक बारिश और ओलावृष्टि की संभावना है। मौसम विभाग ने मंगलवार को लाहौल स्पीति को छोड़कर राज्य के बाकी जिलों में 30 किमी की रफ्तार से आंधी और ओलावृष्टि के साथ आकाशीय बिजली गिरने का अलर्ट जारी किया है. ऊंची चोटियों पर बर्फबारी की संभावना जताई गई है। 18 मई को राज्य के कुछ स्थानों पर बारिश की संभावना है। सोमवार को हुई बारिश और ओलावृष्टि से लोगों को गर्मी से राहत मिली।

उत्तराखंड में आज मौसम बदल सकता है। मौसम विज्ञान केंद्र के पूर्वानुमान के अनुसार, राज्य में कुछ स्थानों पर गरज के साथ ओलावृष्टि हो सकती है। बिजली गिरने के साथ गरज के साथ छींटे पड़ने की भी संभावना है। मौसम विज्ञान केंद्र ने 60 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से आंधी तूफान की येलो अलर्ट जारी की है। मौसम विभाग के मुताबिक मंगलवार को भीषण गर्मी से और राहत मिलने की संभावना है, पंजाब के कई जिलों में बारिश की संभावना है.

Also Read-  तेजी से बढ़ रहा मानसून यूपी, बिहार, दिल्ली समेत इन हिस्सों के लिए आईएमडी अलर्ट जारी

Latest Posts

spot_imgspot_img

Don't Miss

Stay in touch

To be updated with all the latest news, offers and special announcements.